Connect with us

Govt Scheme

Mukhyamantri Bal Seva Yojana 2024: ऐसे मिलेंगे अब बच्चो को ₹4000 हर महीने

Published

on

Mukhyamantri Bal Seva Yojana 2024

Mukhyamantri Bal Seva Yojana 2024: महिला और बाल विकास कल्याण के लिए देश की सरकार समय-समय पर अनेको योजनाएं लेकर आती रहती है। महिला और बाल विकास को सशक्त बनाने के लिए सरकार ने 1989 में अलग से बाल एवं महिला विकास की स्थापना की थी। जिसका उद्देश्य देश की महिला और अनाथ बच्चों को हर एक सुविधा प्रदान करना था। 

कोविड महामारी की वजह से देश-दुनिया को भारी नुकसान हुआ था। इस महामारी में बहुत से बच्चे अनाथ हो गए थे। बहुत से बच्चों ने अपने माता-पिता को खो दिया था। इसके अलावा आए दिन कोई ना कोई बच्चा अनाथ होता रहता है। किसी के माता-पिता की बीमारी की वजह से तो किसी की सड़क दुर्घटना से मृत्यु हो जाती है। 

ऐसी स्थिति में उन माता-पिता के बच्चे पूरी तरह से अनाथ हो जाते हैं और उन बच्चों को कोई भी सहारा नहीं देता है न तो उनको अच्छी शिक्षा मिल पाती है, न  उनकी शादी हो पाती है और ना ही उनकी कोई भी मदद करता है। 

देश के लिए यह बहुत बड़ी समस्या बनती जा रही है और इसी समस्या को देखते हुए उत्तर प्रदेश और हरियाणा सरकार ने Mukhyamantri Bal Seva Yojana की शुरुआत की है। इस योजना के तहत अनाथ बच्चों की स्कूल की पढ़ाई से लेकर उनकी शादी तक का पूरा खर्चा सरकार देती है और यदि कोई बच्चा ग्रेजुएशन या फिर कोई भी स्पेशल कोर्स करना चाहता है तो भी सरकार उनको पूरी आर्थिक सहायता प्रदान करेगी। 

इसीलिए यदि आपने अभी तक मुख्यमंत्री बाल सेवा योजना के तहत ऑनलाइन आवेदन नहीं किया है तो आपके लिए यह लेख महत्वपूर्ण होने वाला है। इस लेख में आगे हम आपको Mukhyamantri Bal Seva Yojana Online Apply करने की पूरी प्रक्रिया स्टेप बाय स्टेप बताने वाले हैं तो ऑनलाइन आवेदन करने के लिए लेख को आखिर तक जरूर पढ़े। 

मुख्यमंत्री बाल सेवा योजना क्या है?

उत्तर प्रदेश की सरकार के द्वारा 18 साल से कम उम्र के अनाथ बच्चों को देखते हुए 30 मई 2021 को मुख्यमंत्री बाल सेवा योजना की शुरुआत की थी। इस योजना के तहत अनाथ बच्चों को हर महीने 4000 रूपये की आर्थिक सहायता प्रदान की जाती है और साथ ही साथ प्रति वर्ष पढ़ाई के लिए 15000 से लेकर के 30000 रूपये की मदद की जाती है। 

उत्तर प्रदेश और हरियाणा सरकार के द्वारा इस योजना का शुभारंभ किया गया है। इस योजना का लाभ लेने के लिए आपको ऑनलाइन आवेदन करना होगा। ऑनलाइन आवेदन की प्रक्रिया बेहद ही आसान है। आप घर बैठे अपने मोबाइल से ही महिला एवं बाल विकास कल्याण की आधिकारिक वेबसाइट पर जाकर ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं। ऑनलाइन आवेदन से जुड़ी पूरी जानकारी के बारे में आगे इस लेख में आप जानने वाले हैं। 

आप सभी को जानकारी के लिए बता दे की मुख्यमंत्री बाल सेवा योजना अभी उत्तर प्रदेश और हरियाणा में लागू है लेकिन धीरे-धीरे इसको पूरे देश में लागू कर दिया जाएगा। इन दोनों राज्य में अनाथ बच्चों के लिए अलग-अलग आर्थिक सहायता उपलब्ध करवाई गई है तो चलिए जानते हैं। 

उत्तरप्रदेश में मुख्यमंत्री बाल सेवा योजना

राज्य में अनाथ बच्चों की संख्या को बहुत बढ़ता देखते हुए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने 30 मई 2021 को मुख्यमंत्री बाल सेवा योजना की शुरुआत की थी। इस योजना को शुरू करने का मकसद कोविड-19 में अनाथ हुए बच्चों को आर्थिक सहायता प्रदान करना है और जिन भी बच्चों के माता-पिता की किसी कारणवश मृत्यु हो गई है तो उन बच्चों को अच्छी से अच्छी शिक्षा प्रदान करना और उनकी शादी तक का खर्चा उठाने की जिम्मेदारी सरकार की है। 

इसके अलावा उत्तर प्रदेश की सरकार अनाथ बच्चों के लिए अनेको लाभ प्रदान कर रही है जो कि इस प्रकार से है। 

  • Covid-19 की वजह से यदि किसी भी बच्चों के माता-पिता में से एक की मृत्यु हो गयी है तो उन बच्चो को लगभग 3000 से 5000 रूपये प्रति माह की आर्थिक सहायता मिलती है। 
  • किसी भी कारणवश यदि बच्चे के माता-पिता दोनों की मृत्यु हो जाती है और बच्चे की आयु 18 वर्ष से कम होती है तो उसे बच्चों को बाल संरक्षण गृह में भेज दिया जाता है, वहां पर उसकी पूरी देखरेख होती है। 
  • इसके साथ-साथ यदि किसी भी लड़की के माता-पिता की मृत्यु हो जाती है तो भी उसकी पूरी आर्थिक सहायता प्रदान की जाती है और उस लड़की को सरकार अपनी देखरेख में ही रखती है। 
  • उत्तर प्रदेश की सरकार के द्वारा इस योजना के तहत यदि कोई बच्चा शिक्षा के प्रति जागरुक है और उसके अंदर टैलेंट है तो उसको सरकार फ्री लैपटॉप या फ्री टैबलेट भी प्रदान करती है। 

मुख्यमंत्री बाल सेवा योजना के तहत 18 वर्ष से कम आयु की लड़कियों को फ्री में शिक्षा प्रदान की जाती है और अनाथ बालिकाओ के लिए सरकार ने अलग से कस्तूरबा गांधी विद्यालय की शुरुआत की है। इस विद्यालय से हर एक लड़की को अच्छी से अच्छी शिक्षा प्रदान की जाती है। इसके साथ-साथ अनाथ बालिकाओं की शादी पर सरकार लगभग 1 लाख से 2 लाख रुपए की आर्थिक सहायता प्रदान करती है और उन सभी बालिकाओं को शिक्षा के साथ-साथ आवास की सुविधा भी प्रदान की जाती है। 

हरियाणा में मुख्यमंत्री बाल सेवा योजना

हरियाणा सरकार के द्वारा मुख्यमंत्री बाल सेवा योजना के तहत 18 वर्ष की आयु से कम अनाथ बच्चों को हर महीने 2500 रूपये की आर्थिक सहायता प्रदान की जाती है। इसके साथ-साथ शिक्षा के लिए और अन्य जरूरत के लिए 15000 रूपये की आर्थिक सहायता प्रदान करती है। 

मुख्यमंत्री बाल सेवा योजना के तहत हरियाणा में अनाथ बच्चों के लिए आवृत्ति जमा खाता खोले जाते हैं, जिनमें लगभग 21 साल तक धनराशि जमा की जाती है और 21 साल के बाद पूरी धनराशि उस बच्चों को प्रदान की जाती है। 

Covid-19 के बाद में अनाथ हुए बच्चों को 18 वर्ष के बाद प्रतिवर्ष लगभग 15000 से 20000 रूपये की सहायता प्रदान की जाती है जो कि सीधे उनके बैंक के खाते में ट्रांसफर कर दी जाती है। 

हरियाणा सरकार के द्वारा न सिर्फ लड़कों को बल्कि अनाथ हुई लड़कियों को भी फ्री में शिक्षा प्रदान की जाती है। इस योजना के तहत अनाथ लड़कियों के लिए एक अलग से विद्यालय की स्थापना की गई है और इस विद्यालय में कोई भी अनाथ लड़की अपनी शिक्षा को ग्रहण कर सकती है और भविष्य में अच्छी से अच्छी नौकरी भी हासिल कर सकती है। 

इस योजना के तहत अनाथ बालिकाओं के लिए सरकार 50000 रुपये की अलग से आर्थिक सहायता प्रदान करती है जो सीधे उन लड़कियों की बैंक की खाते में ट्रांसफर की जाती है और लड़कियों को 12वीं कक्षा तक फ्री में लैपटॉप या फिर टैबलेट की सुविधा भी दी जाती है। 

Mukhyamantri Bal Seva Yojana के फायदे

मुख्यमंत्री बाल सेवा योजना का लाभ उन सभी बच्चों को मिलता है, जिनके माता-पिता की मृत्यु कोरोनावायरस के कारण हो गई है। 

  • इस योजना के अंतर्गत बच्चों को न सिर्फ आर्थिक सहायता प्रदान की जाती है बल्कि उनकी शिक्षा से लेकर के उनकी शादी तक का खर्चा भी सरकार ही उठाती है। 
  • सरकार के द्वारा बच्चों को हर महीने 4000 रुपये की धनराशि प्रदान की जाती है। 
  • सरकार 4000 रुपये की धनराशि बच्चों को 18 वर्ष तक प्रदान करती है। 
  • इस योजना के तहत लड़कियों की शादी के लिए सरकार 100000 रुपये की आर्थिक सहायता देती है। 
  • यदि किसी भी बच्चे की आयु 10 वर्ष से कम है और उसके माता-पिता की मृत्यु हो गई है तो उस बच्चों को अच्छी शिक्षा के साथ-साथ रहने की भी सुविधा प्रदान की जाती है। 
  • इस योजना के तहत सभी बच्चों को लैपटॉप और टैबलेट मिलते है। 
  • अनाथ लड़कियों के लिए कस्तूरबा गांधी बालिका विद्यालय की स्थापना की गई है, जहां से अनाथ बालिकाएं अच्छी से अच्छी शिक्षा ग्रहण कर सकती है। 

मुख्यमंत्री बाल सेवा योजना के तहत हर एक अनाथ बच्चों को 18 वर्ष तक आर्थिक सहायता प्रदान की जाती है लेकिन 18 वर्ष की आयु के अगले 5 वर्ष तक उच्च शिक्षा के लिए हर महीने वित्तीय सहायता प्रदान की जाती है। इसके साथ ही साथ 23 वर्ष की आयु पूरे होने पर पीएम केयर्स की तरफ से ₹10 लाख की धनराशि प्रदान की जाती है ताकि अनाथ बालक या बालिकाएं अपना खुद का कोई भी व्यवसाय शुरू कर सके और अपने भविष्य को एक नई दिशा दे सके। 

मुख्यमंत्री बाल सेवा योजना के लिए योग्यता 

  • उम्मीदवार उत्तर प्रदेश और हरियाणा का निवासी होना चाहिए। 
  • Age 18 वर्ष से कम होनी चाहिए। 
  • कोरोना वायरस के कारण बच्चों ने अपने माता-पिता को खो दिया हो। 
  • इस योजना के अंतर्गत सिर्फ कोरोना वायरस के कारण अपने माता-पिता को खो देने वाले बच्चे ही होने चाहिए। 
  • कोरोना वायरस के कारण यदि बच्चे के माता-पिता में से एक की मृत्यु हो जाती है तो दूसरे की वार्षिक आय 200000 रुपये से अधिक नहीं होनी चाहिए। 
  • यदि किसी बच्चे के माता-पिता की मृत्यु हो जाती है और उसे बच्चों को कोई भी परिवार गोद ले लेता है तो भी वह बच्चा इस योजना के योग्य होता है। 

मुख्यमंत्री बाल सेवा योजना के लिए Documents

  • आवेदक का आधार कार्ड 
  • आवेदक का मूल निवास प्रमाण पत्र 
  • माता-पिता का मृत्यु प्रमाण पत्र 
  • परिवार का आय प्रमाण-पत्र
  • कोरोना वायरस से मृत्यु का प्रमाण पत्र 
  • पासपोर्ट साइज फोटो
  • बैंक पासबुक 

Mukhyamantri Bal Seva Yojana Online Apply कैसे करे?

मुख्यमंत्री बाल सेवा योजना के लिए आवेदन करने की प्रक्रिया बेहद ही आसान है। आप नीचे बताए गए स्टेप्स को फॉलो करके इस योजना के लिए आवेदन कर सकते हैं। 

  1. ऑनलाइन आवेदन करने के लिए यदि आप अपने ग्रामीण क्षेत्र से हैं तो आपको सबसे पहले विकासखंड कार्यालय में जाना होगा। कार्यालय से आपको एप्लीकेशन फॉर्म लेना होगा। 
  2. यदि आप शहरी क्षेत्र से है तो आपको तहसील में जाकर की यह फॉर्म मिल जाएगा। 
  3. एप्लीकेशन फॉर्म में पूछी गई सभी जानकारी को ध्यान पूर्वक भरते हुए अपने सभी जरूरी डॉक्यूमेंट को अटैच करना होगा। 
  4. एप्लीकेशन फॉर्म को कार्यालय में ही जमा करवा देना है। इसके बाद में महिला एवं बाल विकास कल्याण विभाग के द्वारा आपके फॉर्म की जांच की जाती है और 15 दिन की भीतर ही आपको मंजूरी दे दी जाती है। 
  5. यदि आप ग्रामीण क्षेत्र से है तो आप इस एप्लीकेशन फॉर्म को अपने सेक्रेटरी को जमा करवा सकते हैं और यदि आप शहरी क्षेत्र सी हैं तो आप इस फॉर्म को तहसीलदार के पास जमा करवा सकते हैं। 

निष्कर्ष

इस आर्टिकल में आपने जाना ” Mukhyamantri Bal Seva Yojana 2024 ” उम्मीद करते हैं कि आप सभी ने जान लिया होगा कि कैसे आप घर बैठे मुख्यमंत्री बाल सेवा योजना का लाभ उठा सकते हैं। इस योजना का लाभ उठाने के लिए आपको ऑफलाइन आवेदन करना होगा। 

आवेदन प्रक्रिया पूरी करने के 15 दिन बाद ही आप इस योजना का लाभ उठा सकते हैं। आप सभी को जानकारी के लिए बता दे कि यदि किसी कारणवश बच्चे के माता-पिता की मृत्यु हो जाती है तो मृत्यु के 2 साल बाद भी बच्चा इस योजना के लिए आवेदन कर सकता है। 

इसके अलावा यदि आपके मन में कोई भी सवाल है तो आप महिला एवं बाल विभाग की आधिकारिक वेबसाइट पर जाकर हेल्पलाइन नंबर से संपर्क कर सकते हैं और यदि आपके लेख अच्छा लगा तो इसको ज्यादा से ज्यादा शेयर करें धन्यवाद।

इन्हें भी जरुर पढें:

FAQs: Mukhyamantri Bal Seva Yojana 2024

1)- उत्तर प्रदेश में मुख्यमंत्री बाल सेवा योजना क्या है?

यदि आप उत्तर प्रदेश हैं तो उत्तर प्रदेश की सरकार ने अनाथ बच्चों के लिए मुख्यमंत्री बाल सेवा योजना की शुरुआत की है। इस योजना के तहत सभी अनाथ बच्चों को हर महीने ₹4000 की आर्थिक सहायता प्रदान की जाती है और साथ ही साथ पढ़ाई से लेकर के शादी तक का खर्चा भी सरकार ही उठाती है। अनाथ बालिकाओं के लिए कस्तूरबा विद्यालय की शुरुआत की है और बालिकाओं की शादी पर ₹100000 की वित्तीय सहायता भी सरकार के द्वारा ही दी जाती है। 

2)- राजस्थान बाल सेवा योजना क्या है?

राजस्थान सरकार के द्वारा 10 वर्ष की आयु से कम अनाथ बच्चों को रहने के लिए आवास की सुविधा प्रदान की जाती है और पढ़ाई के लिए फ्री लैपटॉप और टैबलेट प्रदान किए जाते हैं ताकि बच्चे अच्छी से अच्छी शिक्षा ग्रहण कर सके। 

3)- मुख्यमंत्री बाल सेवा योजना की शुरुआत कब हुई?

उत्तर प्रदेश की सरकार के द्वारा 18 साल से कम उम्र के अनाथ बच्चों को देखते हुए 30 मई 2021 को मुख्यमंत्री बाल सेवा योजना की शुरुआत की थी।

Real Paise Kamane Wala App
Earn Money Online2 weeks ago

20 बेस्ट रियल पैसे कमाने वाला ऐप (Real Paise Kamane Wala App)

Bank Loan Settlement in Lok Adalat
Finance2 weeks ago

Bank Loan Settlement in Lok Adalat: लोक अदालत में बैंक लोन सेटलमेंट कैसे होता है

Finance3 weeks ago

Jio Data Loan Kaise Le : ऐसे मिलेगा, मुफ्त में जिओ डाटा लोन

Dollar Kamane Wala App
Earn Money Online3 weeks ago

Dollar Kamane Wala App – 18 Real डॉलर कमाने वाला ऐप

Bhagya Lakshmi Yojana 2024
Govt Scheme3 weeks ago

Bhagya Lakshmi Yojana 2024: बेटियों को मिलेंगे 2 लाख लाख रुपये, और मां को 5100 रुपये, जानिए पूरी प्रक्रिया

Namo Laxmi Yojana
Govt Scheme4 weeks ago

Namo Laxmi Yojana 2024 : गुजरात सरकार दे रही है ₹50000 की आर्थिक सहायता, ऐसे करें ऑनलाइन आवेदन

Mukhyamantri Baal Ashirwad Yojana
Govt Scheme1 month ago

Mukhyamantri Baal Ashirwad Yojana: मुख्यमंत्री बाल आशीर्वाद योजना | अनाथ बच्चों को हर महीने मिलेंगे 5000/- रुपये, जाने कैसे

New Business Ideas in Hindi
Finance1 month ago

21+ New Business Ideas in Hindi 2024 | कम खर्चे में अधिक मुनाफे वाले बिजनेस आईडियाज

Free Solar Chulha Yojana 2024
Govt Scheme1 month ago

Free Solar Chulha Yojana 2024: फ्री सोलर चूल्हा योजना | जानिए आवेदन करने का तरीका

Govt Scheme1 month ago

आरक्षण क्या है, क्यों है, फायदे, नुकसान और नौकरी में आरक्षण के नियम क्या है?

Trending